October 3, 2022
बिहार के बेगूसराय शहर को मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने दहला दिया. नेशनल हाइवे 28 पर निकले इन बदमाशों ने एक के बाद एक चार थाना क्षेत्रों से गुजरते हुए राह चलते लोगों पर गोलियां दागीं. 30 किमी के दायरे में 40 मिनट तक चले इस खूनी खेल में नौ लोग घायल हुए.

बिहार में कानून-व्यवस्था पूरी तरह चरमराती दिख रही है. लगातार तीन बड़ी घटनाओं से लोग दहशत में हैं. पहले मंगलवार को बेगूसराय में खुलेआम सड़क पर खूनी खेल खेला गया. सड़क चलते 10 लोगों को गोली मारने वाले बदमाश अभी तक फरार हैं.

दूसरी घटना भागलपुर जिले की है, जहां बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर सिल्क व्यापारी की हत्या कर दी. मोहम्मद अफजल को अपराधियों ने छह गोलियां मारी हैं, जिसमें से चार गोलियां उन्हें लगी हैं. इस मामले में भी हत्यारे अभी तक पुलिस की पहुंच से दूर हैं.

तीसरी घटना मुजफ्फरपुर के नगर थाना क्षेत्र के पुरानी बाजार की है. यहां कपड़ा कारोबारी से डेढ़ करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई है. बारी-बारी से पढ़िए तीनों वारदातों के बारे में और जानिए कैसे एक बार फिर जंगलराज की ओर बढ़ रहा है बिहार…

रंगदारी को लेकर दहशत में है कपड़ा कारोबारी

मुजफ्फरपुर के कपड़ा कारोबारी रंजन कुमार से डेढ़ करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई है. नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी गई है. पुरानी बाजार के कपड़ा कारोबारी की दुकान पर पिस्टल लेकर आए बदमाश ने धमकी देते हुए दुकान पर ताला जड़ दिया.

दुस्साहस इतना कि एसएसपी को भी चुनौती देते हुए बदमाश ने कहा, “उससे कहो ताला खुलवा दे. यदि पैसे नहीं मिले, तो कल का सूरज नहीं देख पाओगे.” कारोबारी रंजन कुमार ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से शुक्ला रोड के ही डब्बू पटेल और उसका भाई फोन पर रंगदारी मांग रहे थे और अब तो दुकान पर ताला भी लगा दिया है.

उन्होंने दो बदमाशों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस कई जगहों पर बदमाश की तलाश में दबिश दे रही है. रंजन ने बताया, “बुधवार सुबह जैसे ही उन्होंने दुकान खोली. डब्बू पटेल और उसका रिश्तेदार अभिषेक पटेल पिस्टल लेकर पहुंच गए. दुकान में ताला जड़कर चाबी अपने साथ ले गए. मैं पुरानी बाजार शुक्ला रोड में करीब 40 साल से रेडीमेड कपड़े की दुकान चला रहा हूं, लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ. मैंने एक ऑडियो क्लिप भी पुलिस को दी है”

इस मामले में एसएसपी जयंत कांत ने बताया, “पुलिस ने दो नामजद लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है. मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू कर दी गई है.

बाइक सवार बदमाशों की तस्वीर पुलिस ने जारी कर दी है, लेकिन वे अभी भी गिरफ्त से दूर हैं.

भागलपुर में सिल्क कारोबारी की हत्या

सिल्क कारोबारी की हत्या के बाद मौके पर जांच के लिए पहुंची पुलिस.
भागलपुर के नाथनगर में के बी लाल चौक में बुधवार देर रात सिल्क व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. दुकान से वापस घर लौट मोहम्मद अफजल पर छह गोलियां दागी गईं, जिसमें से चार उन्हें लगी हैं. वारदात के बाद परिजनों ने आनन-फानन में उन्हें जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय मायागंज अस्पताल ले गए.

डॉक्टरों ने मोहम्मद अफजल को मृत घोषित कर दिया. भागलपुर SSP बाबूराम सहित कई पुलिस पदाधिकारी और पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे. पुलिस स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है. साथ ही बदमाशों की शिनाख्त के लिए सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं.

गौरतलब है कि जोगसर थाना क्षेत्र के श्रीनिकेतन अपार्टमेंट में सात सितंबर की सुबह सुरक्षा गार्ड पुरुषोत्तम दास की गला रेत हत्या की गई थी. उसके साथी साजन दास पर जानलेवा हमला किया गया था.

फॉरेंसिक की टीम, डॉग स्क्वायड और सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद भी हत्या की गुत्थी अभी तक पुलिस नहीं सुलझा पाई है. भागलपुर में ऐसी घटना से लोगों में काफी दहशत का माहौल बन गया है.

बेगूसराय में सड़क पर खूनी खेल

बिहार के बेगूसराय शहर को मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने दहला दिया. नेशनल हाइवे 28 पर निकले इन बदमाशों ने एक के बाद एक चार थाना क्षेत्रों से गुजरते हुए राह चलते लोगों पर गोलियां दागीं. 30 किमी के दायरे में 40 मिनट तक चले इस खूनी खेल में नौ लोग घायल हुए

वारदात में 31 साल के चंदन की मौत हो गई. इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में सात पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए हैं. अपराधियों की धर-पकड़ के लिए तीन टीमें बनी हैं और लगातार दबिशें दी जा रही हैं. हालांकि, अभी भी पुलिस के हाथ खाली हैं.