Shraddha Murder Case: आफताब का पहला CCTV फुटेज आया सामने, रात के 4 बजे देखिए क्या था उसके हाथ में, VIDEO

https://yuvaportal.com/

Shraddha Murder Case: आफताब का पहला CCTV फुटेज आया सामने, रात के 4 बजे देखिए क्या था उसके हाथ में, VIDEO

Shraddha Murder Case: ये भी जानकारी सामने आई है कि आफताब मई में नहीं बल्कि मार्च 2022 में ही श्रद्धा की हत्या करने वाला था.
 
Shraddha Murder Case: आफताब का पहला CCTV फुटेज आया सामने, रात के 4 बजे देखिए क्या था उसके हाथ में, VIDEO

Shraddha Murder Case : श्रद्धा केस में अब धीरे धीरे और अधिक चीजें निकलकर सामने आने लगी हैं. अब ताजा खबर ये है की आफताब का पहली बार रात का वीडियो सामने आया है. ये सीसीटीवी फुटेज 18 अक्टूबर रात के 4 बजे का है.

करीब 21 सेकेंड के इस वीडियो में देखा जा सकता है कि आफताब पीठ पर एक बैग टांगे हुए है. और उसके हाथ में एक बॉक्स है. बॉक्स में क्या है, ये तो नहीं कहा जा सकता है. लेकिन बॉक्स पैकिंग वाला दिख रहा है.

अब इसमें श्रद्धा के टुकड़ों को ठिकाने लगा जा रहा था या क्या वजह हो सकती है. ये कुछ कह नहीं सकते. लेकिन अगर उसमें श्रद्धा की लाश के टुकड़ों को ठिकाने लगाने जा रहा था तो ये साफ है कि इससे पहले आफताब ने 18 मई को हत्या के बाद जो दावा किया था कि 5 जून तक ही उसने कटे हुए डेडबॉडी को ठिकाने लगा दिया था. वो झूठा हो सकता है.

अभी 18 नवंबर को दिल्ली पुलिस ने पहली बार बयान जारी किया था. जिसमें पुलिस ने भी दावा किया था आफताब अब तक गुमराह कर रहा है. यानी ये इशारा कर रहा है कि सीसीटीवी में दिख रहा आफताब कुछ ना कुछ श्रद्धा मर्डर केस से जुड़े सबूत को ही कहीं ले जा रहा है.

Shraddha Murder Case: आफताब का पहला CCTV फुटेज आया सामने, रात के 4 बजे देखिए क्या था उसके हाथ में, VIDEO
जब ये दोनों हिमाचल प्रदेश के कसौल गए थे तो भी वहां के होटलों में इनकी खूब लड़ाई हुई थी.

ये वजहें हैं जो बताता है कि आफताब के दिल में दफ्न हैं अभी कई राज

अब सबसे बड़ा सवाल ये है कि 21 सेकंड के इस सीसीटीवी फुटेज को आफताब के शव के टुकडे फेंकने की फुटेज के तौर पर क्यों देखा जा रहा है? तो पुलिस के ऐसा सोचने के पीछे कई वजहें हैं…

सबसे बड़ी वजह तो यही है कि कत्ल के बाद सबूत मिटाने को लेकर आफताब लगातार झूठ बोल रहा है, ऐसे बहुत मुमकिन है कि लाश निपटाने का सिलसिला उसके पकड़े जाने के चंद रोज़ पहले तक चलता रहा है
दूसरा ये कि इस सीसीटीवी फुटेज में आफताब की जो तस्वीर नज़र आई है वो अहले सुबह करीब 4 बजे के आस-पास की है… और आम तौर पर ऐसे वक्त में घर से बाहर निकलने का कोई तुक नहीं बनता… वो भी तब जब वो अपने कॉल सेंटर की नौकरी घर बैठे यानी वर्क फॉम होम कर रहा हो

तीसरा ये कि इन तस्वीरों में भी आफताब के कांधे पर एक बडा सा पिट्ठू बैग मौजूद है, जैसे बैग का इस्तेमाल कर वो पहले भी श्रद्धा की लाश के टुकड़े जंगलों में फेंकता रहा है.
चौथा इसलिए क्योंकि इन तस्वीरों में आफताब ने अपने हाथ में एक गते का बॉक्स भी है… और पुलिस को शक है कि ऐसा शायद पुलिस को गुमराह करने के लिए है… ताकि रास्ते में पूछताछ होने पर वो इसके सहारे कानून को धोखा दे सके…

10 घंटे में आफताब ने किए थे लाश के टुकड़े

Shraddha Murder Case : श्रद्धा की हत्या के बाद लाश के 34 टुकड़े करने में आफताब को 10 घंटे लगे थे. असल में 18 मई की रात में श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या कर दी थी. उसके अगले दिन उसने बाथरूम में लाश को आरी और चाकू से काटे थे. उसी दौरान उसके हाथ में चोट भी लगी थी. लाश को काटते समय उसने शॉवर चला लिया था. करीब एक घंटे तक लाश के कटे हुए टुकड़ों को उसने पानी से धोया था.

टुकड़े करके बीयर के साथ खाना खाया, फिर थ्रिलर वेबसीरीज देखी
Shraddha Case : लाश के टुकड़ों को धोने के बाद आफताब ने उन्हें अच्छी तरह से अलग-अलग पॉलिथीन में पैक किया था. इसके बाद उन्हें फ्रिज में रख दिया था. उसके बाद उसने ऑनलाइन खाना का ऑर्डर किया था. उसके साथ उसने बीयर भी ली थी.

बीयर और खाना खाने के दौरान उसने नेटफ्लिक्स पर क्राइम थ्रिलर वेबसीरीज भी देखी. इसके बाद फ्रिज खोलकर श्रदा के कटे हुए सिर और सभी पॉलिथीन में भरे लाश के टुकड़ों को देखा और फिर सो गया था.

श्रद्धा मर्डर के बाद पुराने फोन को OLX पर बेचा
Shraddha Case : पुलिस की जांच में पता चला है कि श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब ने अपने पुराने फोन को OLX पर बेच दिया था. ऐसा उसने इसलिए किया था कि ताकी पुराने फोन के आधार पर उसकी कोई डिटेल तक पुलिस ना पहुंच जाए.

इसके साथ ही आफताब ने श्रद्धा के फोन को महाराष्ट्र में फेंकने की जानकारी दी है. लेकिन अभी तक फोन रिकवर नहीं हुआ है. पुलिस अब दोनों फोन को रिकवर करने के लिए पूरी कोशिश में जुटी है.

मार्च में ही श्रद्धा की हत्या करने वाला था, इस वजह से टाला था

Shraddha Case : ये भी जानकारी सामने आई है कि आफताब मई में नहीं बल्कि मार्च 2022 में ही श्रद्धा की हत्या करने वाला था. क्योंकि काफी समय से दोनों में खूब लड़ाई होती थी. उस समय भी उसने पूरी तैयारी की थी. लेकिन लड़ाई के बाद श्रद्धा काफी इमोशनल हो गई थी.

जिसके बाद आफताब ने अपना इरादा टाल दिया था. जब ये दोनों हिमाचल प्रदेश के कसौल गए थे तो भी वहां के होटलों में इनकी खूब लड़ाई हुई थी. हालांकि, वहां भी आफताब का मर्डर करने का कोई प्लान था या नहीं. इस बारे में पुलिस अभी पुख्ता जानकारी जुटा रही है.

मुंबई में आफताब ने श्रद्धा को पत्नी बताकर फ्लैट लिया था

Shraddha Case : मुंबई में डेटिंग ऐप से मुलाकात करने के बाद श्रद्धा के साथ लिव-इन में रहने लगे थे. साल 2019 में दोनों मुंबई के नयागांव कुछ महीने रहे थे. उसके बाद अक्टूबर 2020 में दोनों ने वसई में फ्लैट लिया था. उस समय किराए पर घर लेते समय आफताब ने श्रद्धा को पत्नी को बताया था. यानी दोनों लिव-इन में रहते हुए खुद को पति-पत्नी बता रहे थे.

बताया जा रहा है कि श्रद्धा का कत्ल करने के बाद आफताब जब मुंबई गया था तब उसे लगा था कि अगर पुलिस ने उसे ट्रेस करना शुरू किया तो उसके घर का पता चल जाएगा. इसलिए उसने अपने परिवार को घर छोड़कर कहीं दूसरी जगह शिफ्ट करने के लिए तैयार करा लिया था. अब पुलिस ये पता लगा रही है कि आखिर क्या कहकर आफताब ने अपने घरवालों को दूसरी जगह शिफ्ट कराया था.

देश विदेश
खेत किसानी

FROM AROUND THE WEB