October 3, 2022
ये बकवास मत शुरू करो…, कोहली के ओपनिंग करने पर गौतम गंभीर की दो टूक

टी-20 वर्ल्डकप से पहले एक बात पर चर्चा लगातार हो रही है कि क्या विराट कोहली को रोहित शर्मा के साथ मिलकर ओपनिंग करनी चाहिए. विराट ने हाल ही में एशिया कप में अपना 71वीं इंटरनेशनल सेंचुरी जड़ी, तब वह ओपनिंग करने ही आए थे. इसके बाद इस चर्चा ने और भी ज़ोर पकड़ा, लेकिन टीम इंडिया के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर ने इसे साफतौर पर नकार दिया है.

गौतम गंभीर ने साफ कहा कि विराट कोहली की बैटिंग को लेकर ये बकवास बातें नहीं करनी चाहिए, जब आपके पास केएल राहुल और रोहित शर्मा टीम में हैं, तो आप विराट कोहली से कैसे ओपनिंग करवा सकते हैं.

ये भी देखें

स्टार स्पोर्ट्स के एक शो में गौतम गंभीर ने कहा, ‘मैंने पहले भी ये कहा है कि इस मसले पर कोई बहस होनी ही नहीं चाहिए. आपको हमेशा नंबर-3 पर फ्लेक्सिबल होना चाहिए. क्योंकि अगर आपके ओपनर 10 ओवर तक बैटिंग करते हैं, तो तीसरे नंबर पर सूर्यकुमार यादव को भेजना चाहिए ताकि आते ही रनों की रफ्तार शुरू हो जाए. अगर जल्दी विकेट गिरता है, तो विराट कोहली को नंबर-3 पर आना चाहिए’.

आपको बता दें कि विराट कोहली ने आईपीएल के दौरान कहा था कि वह यहां ओपनिंग करेंगे और चाहेंगे कि टीम इंडिया के लिए टी-20 फॉर्मेट में भी वह ओपनिंग ही करें. हालांकि, टीम इंडिया के लिए विराट कोहली लगातार ओपनिंग नहीं कर पाए हैं, क्योंकि केएल राहुल और रोहित शर्मा की जोड़ी ही अभी यह ज़िम्मेदारी संभाल रही है.

गौतम गंभीर के अलावा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ओपनर मैथ्यू हेडन ने भी कहा कि विराट कोहली के लिए नंबर-3 का स्पॉट सबसे बेहतर है, क्योंकि वह स्ट्राइक रोटेट कर सकते हैं. पारी को संभालना हो, फास्ट बॉलर हो या फिर स्पिनर विराट हर जगह फिट बैठते हैं.

टीम इंडिया भी अभी तक राहुल-रोहित की ओपनिंग जोड़ी विराट कोहली नंबर-3 और सूर्यकुमार यादव नंबर-4 की रणनीति के साथ आगे बढ़ रही है. हालांकि, टी-20 वर्ल्डकप से पहले होने वाली ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका की सीरीज़ में भारत क्या करता है यह देखना भी काफी ज़रूरी होगा, क्योंकि यहां से टी-20 वर्ल्डकप की तैयारियों को धार मिलेगी.

टी-20 वर्ल्डकप के लिए भारतीय टीम इस प्रकार है: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, आर. अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह.

स्टैंडबाय खिलाड़ी – मोहम्मद शमी, श्रेयस अय्यर, रवि बिश्नोई, दीपक चाहर.

गौतम गंभीर