October 3, 2022

Ahsaan Qureshi On Raju Srivastav: देश के मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav Death) का बीते दिन निधन हो गया. राजू के निधन से हर तरफ शोक का माहौल है दोस्त- परिवार ही नहीं बल्कि उनके फैंस भी राजू के जाने का गम मना रहे हैं

कॉमेडियन के अंतिम संस्कार पर उनके दोस्त पहुंचे और अपनी-अपनी तरफ से श्रद्धांजलि भी दी. राजू के खास दोस्त एहसान कुरैशी (Ahsaan Qureshi) भी अपने दोस्त की अंतिम विदाई देने पहुंचे थे और इस दौरान उन्होंने ऐसी-ऐसी बातें बताईं, जिसके बारे में आम जनता को इल्म तक नहीं था. कॉमेडियन एहसान की बातें सुनकर, हर किसी के मन में राजू के लिए इज्जत और बढ़ जाएगी.

स्ट्रगलर की मदद करते थे राजू

राजू श्रीवास्तव के बारे में बात करते हुए एहसान ने बताया कि अगर उनको मालूम पड़ जाए कि इंडस्ट्री में कोई स्ट्रगलर है, उसका शो नहीं हुआ एक महीने से और उसने किराया नहीं दिया तो वहीं से राजू भाई का काम शुरू हो जाता है. बंद मुट्ठी उसका किराया हो जाता है, उसके घर राशन पहुंच जाता है. राजू भाई ने यह काम लोगों को कभी नहीं दिखाया गया.

ये भी पढ़ें –

एहसान की भी मदद की

एहसान ने यह भी बताया कि कैसे राजू ने उन पर एहसान किया था. कुरैशी ने बताया कि जब उन्होंने घर लिया था तो उन्हें पांच लाख की कमी पड़ी थी, वो भी 16 साल पहले. उन्होंने बताया कि मैंने राजू भाई से चर्चा की तो उन्होंने तुरंत पैसे दिए और घर की रजिस्ट्री करवाई. एहसान को छोटा भाई मानते थे राजू श्रीवास्तव और इसी वजह से वो इमोशनल होते हुए भी नजर आए.

कानपुर के रहने वाले राजू

हम सभी के प्यारे ‘गजोधर भैया’ राजू श्रीवास्तव का 21 सितंबर की सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर निधन हो गया. करीब 42 दिन से मौत से जंग लड़ रहे राजू श्रीवास्तव आखिरकार जंग हार गए.

Raju Srivastav

सबको रोता-बिलखता छोड़ गए. राजू श्रीवास्तव आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा था जब उन्हें तमाम मुश्किलें उठानी पड़ी थीं.

अपने हुनर से लोगों को हंसा हंसा कर लोटपोट कर देने वाले राजू श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के रहने वाले थे. राजू का जन्म 25 दिसंबर 1963 को हुआ था. मध्यम वर्गीय परिवार में जन्मे राजू श्रीवास्तव अपने पीछे करोड़ों की गाड़ियां, घर और संपत्ति छोड़कर चले गए.