October 4, 2022

आरोपी छात्रा को फटकार लगाती हुई हॉस्टल वार्डन

Punjab News: मोहाली की एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं के अश्लील वीडियो कथित तौर पर वायरल होने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. वीडियो ऑनलाइन शेयर करने वाली छात्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है. अब इस मामले का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें हॉस्टल की वार्डन आरोपी छात्रा को फटकार लगाती नजर आ रही है.

गुस्से में दिख रही वार्डन हॉस्टल में आरोपी लड़की से कहती नजर आ रही है, ”…बेशर्म कहीं की. किसने बोला तुझसे वीडियो बनाने के लिए…तेरे को आज ही सस्पेंड करेंगे…कितना गंदा, घिनौना काम कर रही है तू…”

दरअसल, आरोप है कि छात्रा ने अपने साथ रहने वाली लड़कियों की नहाते के दौरान 50-60 वीडियो क्लिप रिकॉर्ड करके शिमला के रहने वाले बॉयफ्रेंड को भेज दीं. इसके बाद उस लड़के ने कथित तौर पर वीडियो क्लिप्स सोशल मीडिया पर अपलोड कर दीं.

आरोपी छात्रा का अलग दावा

उधर, आरोपी छात्रा ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि उसने सिर्फ अपना ही वीडियो भेजा है, किसी दूसरी छात्रा का वीडियो नहीं बनाया है. लेकिन यूनिवर्सिटी की एक स्टूडेंट का दावा है कि आरोपी छात्रा ने 50-60 लड़कियों के नहाते हुए वीडियो रिकॉर्ड किए हैं.

ये भी पढ़ें –

छात्रा का मोबाइल जांच के लिए भेजा: SSP

मोहाली के SSP विवेक सोनी के मुताबिक, आरोपी छात्रा का मोबाइल फोन को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. आरोपी स्टूडेंट ने पूछताछ में बताया है कि उसने किसी दूसरी छात्रा का वीडियो रिकॉर्ड नहीं किया है. अब हम इस मामले में भी जांच कर रहे हैं और पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि वहां वीडियो क्यों भेजे गए?

छात्राओं का वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किए जाने के विरोध में यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने जमकर धरना प्रदर्शन किया. लुधियाना- चंडीगढ़ मार्ग पर स्थित यूनिवर्सिटी परिसर में शनिवार आधी रात हुआ.

आरोपी छात्रा को फटकार लगाती हुई हॉस्टल वार्डन

CM भगवंत मान ने किया ट्वीट

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की घटना सुनकर दुख हुआ है. हमारी बेटियां हमारी शान हैं. घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं, जो भी दोषी होगा, सख्त कार्रवाई की जाएगी. मैं लगातार प्रशासन के संपर्क में हूं. मैं सबसे अपील करता हूं कि अफवाहों से बचें.

दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा: शिक्षा मंत्री

इस मामले को लेकर पंजाब के स्कूली शिक्षामंत्री हरजोत सिंह बैंस ने आश्वासन दिया है कि दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा. यह संवेदनशील मामला है और हमारी बहनों-बेटियों के सम्मान से जुड़ा है. मीडिया सहित सभी को सतर्क रहने की जरूरत है. एक समाज के तौर पर यह हमारे लिए भी परीक्षा की घड़ी है.