देर रात दिल्ली में भूकंप के तेज झटकों से सहम उठे लोग, नेपाल में भारी तबाही

https://yuvaportal.com/

देर रात दिल्ली में भूकंप के तेज झटकों से सहम उठे लोग, नेपाल में भारी तबाही

देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाके में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रात 1:57 पर काफी तेज झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई. यह झटके दिल्ली-NCR, UP और बिहार में महसूस किए गए. नेपाल के दोती जिले में भूकंप के बाद एक घर गिरने से लगभग
 
देर रात दिल्ली में भूकंप के तेज झटकों से सहम उठे लोग, नेपाल में भारी तबाही

देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाके में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रात 1:57 पर काफी तेज झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई. यह झटके दिल्ली-NCR, UP और बिहार में महसूस किए गए.

नेपाल के दोती जिले में भूकंप के बाद एक घर गिरने से लगभग 2:12 बजे 6 लोगों की मौत हो गई. कई इलाकों में तो एक के बाद एक तीन झटके महसूस किए गए. इसके बाद फिर 3:15 बजे फिर 3.6 की तीव्रता पर भूकंप महसूस किया गया.

नेशनल सेंटर फॉर सेस्मोलोजी के मुताबिक 1.57 बजे आए इस भूकंप का केंद्र नेपाल, मणिपुर था. इस भूकंप की गहराई जमीन से 10 किलोमीटर नीचे थी. गौरतलब है कि दिल्ली NCR समेत कई इलाकों में भूकंप काफी तेज था.

भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग देर रात घरों से बाहर निकल आए. रात 1:57 बजे के बाद फिर 3:15 बजे नेपाल में भूकंप आया. इसे 3.6 की तीव्रता पर महसूस किया गया.

कुछ घंटे पहले भी आया था नेपाल में भूकंप

इससे पहले भी लखनऊ समेत UP के कई जिलों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.9 मापी गई थी. इसका केंद्र उत्तराखंड में भारत-नेपाल सीमा पर जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था. जानकारी के मुताबिक यह भूकंप 8 नवंबर को करीब रात 8:52 बजे आया था.

देर रात दिल्ली में भूकंप के तेज झटकों से सहम उठे लोग, नेपाल में भारी तबाही
नेपाल में भूकंप से बहुत अधिक तबाही के समाचार हैं

बीते दिन 2 बार महसूस किए गए भूकंप के झटके

इसके अलावा मंगलवार को ही 4.4 की तीव्रता पर एक और भूकंप महसूस किया गया था. यह भूकंप सुबह 11 बजकर 57 मिनट पर महसूस किया गया. इसका केंद्र चम्फाई, मिजोरम था.

बता दें कि रात में लोग जब सो रहे थे तब अचानक ही यह भूकंप के झटके महसूस हुए. सो रहे लोगों के बेड अचानक हिलने लगे. अब लोग फोन कर एक-दूसरों के हाल पूछ रहे हैं.

देश विदेश
खेत किसानी

FROM AROUND THE WEB