September 27, 2022
परफ्यूम लगाने वालों को मच्छर काटते हैं
जैसे हम अपने भोजन का चुनाव अपनी पसंद के हिसाब से करते हैं, ठीक वैसे ही मच्छर भी अपने शिकार को पसंद करते हैं और उन लोगों को ज्यादा काटते हैं. हमारे शरीर की कुछ चीजें ऐसी होती हैं जो मच्छरों को आकर्षित करती हैं. मच्छर एक खास तरह की चीजों वाली बॉडी को काटना पसंद करते हैं.

Amazing Facts: यूं तो मच्छरों का काटना आम है लेकिन अगर सबके बीच में से मच्छर सिर्फ कुछ ही लोगों को काटें और बांकियों को नहीं तो इसके पीछे एक खास वजह है. आइए जानते हैं कि मच्छर अपना शिकार कैसे चुनते हैं.

Mosquitoes Bite Reason: अगर किसी को ऐसा लगता है कि मच्छर आपको ही काट रहे हैं किसी और को नहीं, तो ऐसा मत सोचिए कि मच्छर से आपका कोई पुराना रिश्ता है बल्कि कुछ ऐसे वैज्ञानिक कारण हैं जिनकी वजह से आप मच्छरों के शिकार ज्यादा बनते हैं. आइए जानते हैं कि किन लोगों को मच्छर ज्यादा काटते हैं और इसके पीछे क्या वजह है.

महक से मच्छर आकर्षित होते हैं

अपनी पसंद से चुनते हैं शिकार

जैसे हम अपने भोजन का चुनाव अपनी पसंद के हिसाब से करते हैं, ठीक वैसे ही मच्छर भी अपने शिकार को पसंद करते हैं और उन लोगों को ज्यादा काटते हैं. हमारे शरीर की कुछ चीजें ऐसी होती हैं जो मच्छरों को आकर्षित करती हैं. मच्छर एक खास तरह की चीजों वाली बॉडी को काटना पसंद करते हैं.

यह भी देखे

खून (Blood)

कई बार आपने सुना होगा कि जिसका खून मीठा होता है उसे ही ज्यादा मच्छर काटते हैं, ये बात कुछ हद तक सच भी है. कुछ खास खून तरह के वालों को काटना मच्छर ज्यादा पसंद करते हैं. कुछ रिसर्च बताती हैं कि मच्छर O ब्लड ग्रुप वालों को ज्यादा काटते हैं.

गंध (Smell)

बॉडी की महक से मच्छर आकर्षित होते हैं. इसका मतलब ये नहीं है कि परफ्यूम लगाने वालों को मच्छर काटते हैं, बल्कि कुछ खास तरह की बॉडी की महक मच्छरों को अट्रैक्ट करती है. शरीर के पसीने में अमोनिया और लैक्टिक एसिड जैसे कई तरह के कंपाउंड होते हैं जिनकी गंध से मच्छर आकर्षित होते हैं.

मेटाबॉलिक रेट (Metabolic Rate)

जिसका मेटाबॉलिक रेट ज्यादा होता है उसे मच्छर ज्यादा काटते हैं. प्रेग्नेंट लेडीज का मेटाबॉलिक रेट ज्यादा होता है इसलिए उन्हें बहुत मच्छर काटते हैं.

बैक्टीरिया (Bacteria)

जहां बैक्टीरिया ज्यादा होते हैं वहां मच्छर भी ज्यादा होते हैं. यही वजह है कि गंदगी वाली जगहों पर मच्छर ज्यादा होते हैं. एक रिसर्च के मुताबिक मच्छर हमारे पैरों में ज्यादा काटते हैं क्योंकि पैरों में बैक्टीरिया होने के चांसेस ज्यादा होते हैं.

कार्बन डाइऑक्साइड (CO2)

मच्छर कार्बन डाइऑक्साइड गैस से अट्रैक्ट होते हैं. जो जितनी लंबी सांसे लेकर छोड़ता है उससे उतनी ही ज्यादा कार्बन डाइऑक्साइड निकलती है. ऐसे लोगों को काटना मच्छरों को ज्यादा पसंद आता है.