September 27, 2022

Kisan Credit Card: केंद्र सरकार की तरफ से क‍िसानों की आमदनी बढ़ाने के ल‍िए लगातार प्रयास क‍िये जा रहे हैं. इसमें केंद्र की पीएम क‍िसान सम्‍मान न‍िध‍ि सबसे अहम है. इस योजना में 10 करोड़ से ज्‍यादा पात्र क‍िसानों को सालाना 6000 रुपये द‍िए जाते हैं. यह राश‍ि 2-2 हजार रुपये की तीन क‍िस्‍तों में दी जाती है. प‍िछले द‍िनों व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण ने क‍िसानों की आर्थ‍िक स्‍थ‍ित‍ि को ध्‍यान में रखते हुए बैंकों को द‍िशा-न‍िर्देश द‍िये हैं.

आसानी से कर्ज देने की अपील

यह भी देखें..

व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण ने सरकारी बैंकों से ग्रामीणों की आमदनी बढ़ाने के लिए किसान क्रेडिट कार्ड होल्‍डर्स को आसानी से कर्ज देने की अपील की है. व‍ित्‍त मंत्री ने कुछ द‍िन पहले पब्‍ल‍िक सेक्‍टर के बैंकों के मुख्य कार्यपालक अधिकारियों के साथ लंबी बातचीत की थी. इस दौरान उन्होंने तकनीक को उन्नत बनाने में रीजनल रूरल बैंकों की मदद करने को कहा था.

किसान क्रेडिट कार्ड योजना का र‍िव्‍यू क‍िया

बैठक के बाद मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने बताया था क‍ि व‍ित्‍त मंत्री ने इस दौरान किसान क्रेडिट कार्ड योजना का र‍िव्‍यू क‍िया. साथ ही उन्‍होंने इस बात पर व‍िचार क‍िया क‍ि कैसे संस्थागत ऋण क‍िसानों के ल‍िए उपलब्ध कराया जा सके. वित्त राज्यमंत्री भागवत के कराड ने बताया था क‍ि बैठक की अध्यक्षता वित्त मंत्री ने की और मछली पकड़ने और डेयरी क्षेत्र में लगे लोगों को केसीसी जारी करने पर चर्चा की गई.’

PM Kisan: क‍िसानों की आय बढ़ाने के ल‍िए व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान, सुनकर खुश हो जाएंगे आप

उन्होंने यह भी बताा क‍ि एक अन्य सत्र में क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों पर फैसला लि‍या गया क‍ि प्रायोजक बैंकों को डिजिटलीकरण और प्रौद्योगिकी सुधार में मदद करनी चाहिए. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों की एग्रीकल्‍चर लोन में अहम भूमिका है.