Karwa Chauth 2022 Live: इस समय निकलेगा चाँद, हो चुका है करवा चौथ पूजा का मुहूर्त, ऐसे करें तैयारियां

https://yuvaportal.com/

Karwa Chauth 2022 Live: इस समय निकलेगा चाँद, हो चुका है करवा चौथ पूजा का मुहूर्त, ऐसे करें तैयारियां

Karwa Chauth 2022 Live: पत्नियों के लिए ये सबसे बड़ा त्योहार होता है, इसदिन औरतें अपने पति की लंबी उम्र की दुआ करती हैं
 
Karwa Chauth 2022 Live: इस समय निकलेगा चाँद, हो चुका है करवा चौथ पूजा का मुहूर्त, ऐसे करें तैयारियां

वीरावती ने चांद की पूजा किए बिना कर लिया भोजन

Karwa Chauth 2022 Live: प्राचीन कहानी के मुताबिक वीरावती के भाईयों से बहन की व्रत के दौरान ये हालात देखी न गई. सभी भाइयों ने मिलकर पीपल की आड़ में एक दीप जलाकर छलनी में रख दिया.

चांद की नकली आकृति बनाकर अपनी बहन से कहा चंद्रमा की पूजा कर व्रत का पारण कर लो. उनकी बहन सच्चाई से अनजान थी उसने पूजा करके भोजन ग्रहण करना शुरु कर दिया.

लेकिन उसके पहले ही निवाले में बाल आया, दूसरे में छींक और जैसे ही तीसरा निवाला खाने जा रही थी कि पति की मृत्यु का समाचार आ गया. तब देवी इंद्राणी ने वीरावती को भूल का अहसास कराया.

फिर इंद्रावती ने 12 महीने तक हर चतुर्थी पर व्रत किया. करवा चौथ के दिन इंद्रावती की इस कठिन तपस्या की वजह से उसे उसका पति फिर से मिल गया.

करवा चौथ की पूजा में अवश्य पढ़ें ये कथा

भारतवर्ष की पौराणिक कथा के अनुसार इंद्रप्रस्थपुर के एक ब्राह्मण की पुत्री वीरावती का विवाह एक योग्य ब्राह्मण युवक के साथ हुआ था. शादी के बाद वीरावती अपने मां के घर आई थी. यहां उसने अपना पहला करवा चौथ का व्रत रखा. वीरावती ने दिनभर भूखे प्यासे रहकर व्रत किया लेकिन शाम को वो कमजोरी के चलते मूर्छित हो गई.

Karwa Chauth 2022 Live: इस समय निकलेगा चाँद, हो चुका है करवा चौथ पूजा का मुहूर्त, ऐसे करें तैयारियां
चाँद निकलने का समय भी आप जान लीजिए

जानिए करवा चौथ 2022 चांद निकलने का समय (Karwa Chauth 2022 Moon Rising Time)

करवा चौथ पर चंद्रमा की पूजा का विशेष महत्व है. ऐसे में पूरे दिन भर व्रती को चांद निकलने का इंतजार रहता है. इस साल करवा चौथ का चांद 13 अक्टूबर को रात 8 बजकर 19 मिनट पर निकलेगा.

करवा चौथ 2022 पूजा मुहूर्त (Karwa Chauth 2022 Puja Muhurat)

करवा चौथ की पूजा शुभ मुहूर्त में ही करनी चाहिए. 13 अक्टूबर को शाम 06 बजकर 01 मिनट से रात 07 बजकर 15 मिनट तक पूजा की जा सकती है. महिलाओं को पूजा के लिए पूरा 1 घंटा 14 मिनट का समय मिलेगा.

कैसे करें करवा चौथ पूजा की तैयारी ?

करवा की पूजा सामग्री के लिए टोटीवाला करवा, करवा चौथ कथा की पुस्तक, कांस की सींक, कलश, सुहाग का सामान,बाती (रूई)लकड़ी का आसन, दही, देसी घी, छलनी, दक्षिणा के पैसे, हलुआ, पान,कच्चा दूध, दही, फूल, चंदन, शक्कर का बूरा, दीपक, अगरबत्ती, मौली, अक्षत, हल्दी, चावल, मिठाई, रोली, देसी घी, शहद, कपूर, गेहूं, बाती (रूई)लकड़ी का आसन, छलनी, दक्षिणा के पैसे, हलुआ, आठ पूरियों की अठावरी

करवा चौथ महत्व (Karwa Chauth Importance)

करवा चौथ पर जो महिलाएं निर्जला व्रत रखकर सुखी दांपत्य जीवन की कामना करती हैं उन्हें अखंड सौभाग्य का वरदान मिलता है, इस व्रत के प्रभाव से व्रती का वैवाहिक जीवन सुखमय रहता है. शास्त्रों के अनुसार सुहागिने इस दिन चंद्रमा को अर्घ्य देने के बाद पति के हाथों से पानी पीकर व्रत खोलती है.

कहते हैं यह पर्व पति-पत्नी के रिश्ते में मिठास घोलता है. कहते हैं इस दिन पूजा में करवा माता की कथा जरूर सुननी चाहिए, इससे सौभाग्यवती का आशीर्वाद मिलता है. इस दिन व्रती को ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए तभी पूजा सफल होगी.

करवा चौथ पर इन 3 राशियों का होगा भाग्योदय

सिंह – सिंह राशि के लोगों के लिए करवा चौथ का त्योहार लाभदायक होगा. व्यापार को आगे बढ़ाने में कामयाब होंगे, जिससे आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा.

कर्क – कर्क राशि के जातकों को लंब वक्त से उधार दिया धन दोबारा मिलेगा. व्यापार में तरक्की के योग बन रहे हैं

कन्या – कन्या राशि के जातक को करवा चौथ के दिन धन से संबंधी परेशानियों से राहत मिलेगी. आय में वृद्धि हो सकती है, साथ ही धन आगमन के नए रास्ते खुलेंगे.

करवा चौथ व्रत की पूजा विधि

करवा चौथ की पूजा में शाम को 16 श्रृंगार कर शुभ मुहूर्त में पूर्व दिशा में चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं और करवा माता की तस्वीर स्थापित करें. सर्व प्रथम गणेश जी की उपासना करें.

फिर षोडोपचार से करवा माता और शंकर-पार्वती को चंदन, रोली, मौली, कुमकुम, सिंदूर, अक्षत, फूल अर्पित करें. चौकी पर एक करवा में अनाज, दक्षिणा और पूजा की सुपारी डालकर रखें.

उसके ऊपर दीपक प्रज्वलित करें. करवा चौथ व्रत की कथा सुनें. आरती करें और फिर चांद निकलने पर दूसरे कर से चंद्रमा को जल चढ़ाएं. इसके बाद ही व्रत का पारण करें.

देश विदेश
खेत किसानी

FROM AROUND THE WEB