September 27, 2022
सपना ने कोर्ट में किया सरेंडर
सपना चौधरी पर आरोप है कि उन्होंने डांस शो के लिए पैसा तो लिया था, लेकिन वो शो करने के लिए वेन्यू पर नहीं पहुंची थीं. इस मामले में मेकर्स ने सपना के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए लखनऊ स्थित आशियाना थाना में मामला दर्ज करवाया था. ये मामला 13 अक्टूबर 2018 का है.

लखनऊ फ्रॉड केस के चलते सपना चौधरी (Sapna Choudhary) काफी लंबे वक्त से खबरों में छाई हुई हैं. हाल में इस केस को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है, जिसे सुनकर उनके फैंस को झटका लग सकता है.

सपना ने कोर्ट में किया सरेंडर
वारंट हुआ था जारी

 गैर ज़मानती वारंट जारी
गैर ज़मानती वारंट जारी

नई दिल्ली: मशहूर हरियाणवी डांसर और एक्ट्रेस सपना चौधरी पर लखनऊ में धोखाधड़ी का केस चल रहा था. उनके खिलाफ वारंट भी जारी किया गया था. खबर है कि सपना कोर्ट में पेश हुई और उन्होंने मामले में सरेंडर कर दिया है. धोखाधड़ी के एक मामले में अदालत ने उनके खिलाफ गैर ज़मानती वारंट जारी किया था, जिसके बाद आज वो कोर्ट पहुंचीं थीं. हालांकि सरेंडर करने के कुछ देर बाद ही कोर्ट ने सपना चौधरी का वारंट वापस ले लिया गया है.

यह भी देखे

क्या था मामला?

सपना चौधरी पर आरोप है कि उन्होंने डांस शो के लिए पैसा तो लिया था, लेकिन वो शो करने के लिए वेन्यू पर नहीं पहुंची थीं. इस मामले में मेकर्स ने सपना के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए लखनऊ स्थित आशियाना थाना में मामला दर्ज करवाया था. ये मामला 13 अक्टूबर 2018 का है. तब आशियाना के एक निजी क्लब में सपना चौधरी का शो आयोजित कराया गया था. शो के टिकट ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचे गए थे.

खूब हुआ था हंगामा

सपना को दोपहर तीन बजे कार्यक्रम में पहुंचना था और कार्यक्रम रात को 10 बजे तक तय था. सपना चौधरी का शो जुनैद अहमद, नवीन शर्मा, अमित पांडे, रत्नाकर उपाध्याय और पहल इंस्टिट्यूट के इवाद अली ने आयोजित किया था,

लेकिन वो इस शो में नहीं पहुंची. इसको लेकर हजारों दर्शक भड़क गए थे और उन्होंने जमकर हंगामा किया था.

टिकट के पैसे नहीं किए वापस

हंगामे के बाद लोगों ने टिकट के पैसे वापस करने की मांग की थी. इस दौरान दर्शकों ने आयोजकों पर धोखाधड़ी का आरोप भी लगाया और जमकर तोड़फोड़ की थी. मौके पर पहुंचे पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने लोगों को समझाकर शांत कराया. उसके बाद ये केस आयोजकों की ओर से दर्ज कराया गया था, लेकिन लोगों के पैसे वापस नहीं किए गए थे.