October 3, 2022
टीम इंडिया में आने के लिए इस प्लेयर ने भरी हुंकार, शतक ठोक गेंदबाजों की उड़ाई धज्जियां

Duleep Trophy: दिलीप ट्रॉफी 2022 के पहले सेमीफाइनल मैच में सेंट्रल जोन के खिलाफ वेस्ट जोन ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली है. वेस्ट जोन की तरफ से एक खिलाड़ी ने कमाल का खेल दिखाया है. इस प्लेयर ने धमाकेदार शतक जमाया और बॉलर्स की जमकर बखिया उधेड़ी.

सेलेक्टर्स ने इस प्लेयर को टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में मौका नहीं दिया है. लेकिन अपने प्रदर्शन के दम पर इस प्लेयर ने टीम इंडिया का दरवाजा खटखटाया है. आइए जानते हैं, इस प्लेयर के बारे में.

इस खिलाड़ी ने जमाया शतक

घरेलू टूर्नामेंट में स्टार बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) बहुत ही शानदार खेल दिखा रहे हैं. उन्होंने दिलीप ट्रॉफी के सेमीफाइनल मैच में वेस्ट जोन की तरफ से खेलते हुए सेंट्रल जोन के खिलाफ शतक जमाया. उन्होंने दूसरी पारी में सिर्फ 96 गेंदें खेलते हुए तूफानी 104 रनों की पारी खेली, जिसमें 11 चौके और तीन लंबे छक्के शामिल थे.

ये भी देखें

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) की पारी देखकर विरोधी गेंदबाजों ने दांतों तले अंगुलियां दबा लीं. उन्होंने मैदान के हर तरफ स्ट्रोक लगाए. जबकि दूसरी पारी में टीम का कुल स्कोर 130 रन ही हुआ है. इसमें पृथ्वी शॉ के 104 रन शामिल हैं.

टीम इंडिया से चल रहे हैं बाहर

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) लंबे समय से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं. सेलेक्टर्स ने उन्हें एशिया कप में नहीं चुना था. इसके बाद उन्हें टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए भी भारतीय टीम में जगह नहीं मिली है.

रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में पृथ्वी शॉ ने कई बार ओपनिंग की अहम जिम्मेदारी संभाली थी. उनकी बैटिंग में सचिन तेंदुलकर और वींरेंद्र सहवाग की झलग दिखाई देती है. पृथ्वी शॉ जब अपनी लय में हों तो किसी भी गेंदबाजी आक्रामण की धज्जियां उड़ा सकते हैं.

भारत के लिए खेले तीनों ही फॉर्मेट

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट खेले हैं. वहीं, आईपीएल में वह दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेलते हैं. उनके पास ओपनिंग का अपार अनुभव है. उन्होंने अपने दम पर दिल्ली कैपिटल्स को कई मैच जिताए हैं. पृथ्वी शॉ ने भारतीय टीम के लिए 5 टेस्ट मैचों में 339 रन, 6 टी20 मैचों में 189 रन बनाए हैं. उन्होंने टी20 क्रिकेट में भारत के लिए सिर्फ एक ही मैच खेला है.

वेस्ट जोन ने मैच पर कसा शिकंजा

वेस्ट जोन ने अपनी पहली पारी में 257 रन बनाए थे. इसके बाद सेंट्रल जोन की तरफ से कोई बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया और पूरी टीम सिर्फ 128 रन ही बना पाई. वेस्ट जोन ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक तीन विकेट पर 130 रन बना लिए हैं और उसकी बढ़त 259 रनों तक पहुंच गई. ऐसे में वेस्ट जोन ने मैच पर अपना शिकंजा कस दिया है.

इंडिया टीम