October 2, 2022
Update: Heavy rain will occur in this state for the next three days
मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदेश में मानसून सक्रिय बना हुआ है और पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हुई.

देश में अलग-अलग जगह मानसून की सक्रियता देखने को मिल रही है. कहीं भारी बारिश ने जीना मुहाल किया हुआ है तो कहीं फुहारों ने मौसम को रंगीन बनाया है. अब मौसम विभाग ने एक राज्य में अगले तीन दिन में भारी बारिश की चेतावनी दी है.

ओडिशा के लिए चेतावनी जारी

मौसम विभाग ने कम दबाव क्षेत्र के चलते ओडिशा में ये चेतावनी दी है. कम दबाव का क्षेत्र शीघ्र निर्मित होने का अंदेशा है. एक बुलेटिन के कहा गया कि उत्तर तथा मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवात परिसंचरण शनिवार को निर्मित हुआ था और इसके प्रभाव से मंगलवार तक समुद्र के उत्तर पश्चिमी हिस्से पर कम दबाव का क्षेत्र निर्मित होगा.

कई जगहों के लिए येलो अलर्ट

ढेंकनाल और संबलपुर में सुबह 8.30 से शाम 5.30 बजे के बीच क्रमश: 22 मिमी और 16 मिमी बारिश हुई. मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि भुवनेश्वर, कोरापुट, मल्कानगिरी और कटक में हल्की बारिश हुई. मौसम विभाग ने पुरी, कालाहांडी, कंधमाल और गंजाम में कुछ स्थानों पर सोमवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है.

यूपी के पूर्वी हिस्सों में बारिश के आसार

उधर, उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से में अगले 24 घंटों के दौरान फिर से वर्षा होने का अनुमान है. लखनऊ स्थित आंचलिक मौसम केंद्र ने राज्य के पूर्वी हिस्सों के 15 जिलों में अगले 24 से 48 घंटे के दौरान गरज और चमक के साथ बारिश होने की संभावना व्यक्त की है.

प्रदेश में मानसून बना है सक्रिय

मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदेश में मानसून सक्रिय बना हुआ है और पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हुई. इस दौरान बहेड़ी (बरेली) में सबसे ज्यादा 18 सेंटीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई. इसके अलावा देवरिया में 15, निचलौल (महराजगंज) में 13, बिलारी (मुरादाबाद) में सात, रामपुर में छह, महराजगंज, चंद्रदीप घाट (गोरखपुर), नौतनवा (महराजगंज) गायघाट और बलिया में पांच-पांच सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई.

मौसम विभाग की माने तो उतर प्रदेश में अगले तीन दिन अच्छी बरसात हो सकती है

तापमान में दर्ज की गई गिरावट

प्रदेश के अनेक हिस्सों में पिछले दो दिन से हुई बारिश से तापमान में खासी गिरावट महसूस की गई और पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश के गोरखपुर, लखनऊ, मुरादाबाद, अयोध्या, कानपुर, बरेली तथा झांसी मंडलों के विभिन्न जिलों में दिन का तापमान सामान्य से कम रहा.

बढ़ रहा नदियों का जलस्तर

केंद्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक, घाघरा नदी का जलस्तर एल्गिन ब्रिज (बाराबंकी) और अयोध्या में खतरे के निशान को पार कर गया है. वहीं, राप्ती नदी बलरामपुर में लाल निशान के नजदीक पहुंच गई है और इसका जलस्तर लगातार बढ़ रहा है.