October 3, 2022
विनेश फोगाट ने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में रचा इतिहास, ये उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय रेसलर बनीं

Vinesh Phogat Wrestling World Championships: स्टार महिला रेसलर विनेश फोगाट ने रेसलिंग वर्ल्ड चैम्पियनशिप में इतिहास रच दिया है. विनेश वर्ल्ड चैम्पियनशिप के इतिहास में दो मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला रेसलर और ओवरऑल दूसरी भारतीय पहलवान बन गई हैं.

विनेश ने बुधवार को ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया है. यह वर्ल्ड चैम्पियनशिप सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड में खेली जा रही है. विनेश से इस बार गोल्ड की उम्मीद थी, लेकिन वह महिला फ्रीस्टाइल के 53 किलो भारवर्ग में क्वालिफिकेशन दौर में मंगोलिया की खुलान बटखुयाग के हाथों 0-7 से हार गईं.

रेपचेज मुकाबले में स्वीडन की रेसलर को हराया

मगर अब उन्होंने शानदार वापसी की और 53 किलो भारवर्ग के रेपचेज मुकाबले में स्वीडन की रेसलर एम्मा जोना मालमग्रेन को 8-0 से हराया. इसी के साथ विनेश ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया. इससे पहले उन्होंने 2019 वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भी ब्रॉन्ज जीता था. तब यह वर्ल्ड चैम्पियनशिप कजाखस्तान के नूर सुल्तान में हुई थी.

ये भी देखें

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में जीता गोल्ड

हाल ही में बर्मिंघम में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में विनेश फोगाट ने धमाकेदार प्रदर्शन किया और गोल्ड मेडल जीता था. उस टूर्नामेंट ने उन्होंने नॉर्डिक सिस्टम के आधार पर जीत हासिल की. विनेश ने पहले मैच में वर्ल्ड चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता कनाडाई रेसलर सामंथा ली स्टीवर्ट के खिलाफ जीत दर्ज की. इसके बाद विनेश ने अपने दूसरे मैच में नाइजीरिया की मर्सी बोलाफुनोलुवा अडेकुओरोए और तीसरे मैच में श्रीलंका की केशनी मदुरवलगे को मात दी.

ओलंपिक में रहा है निराशाजनक प्रदर्शन

2016 के रियो ओलंपिक के क्वार्टरफाइनल में घुटने की चोट के चलते विनेश फोगाट के पदक जीतने की उम्मीद टूट गई थी. वहीं टोक्यो ओलंपिक में वह अंतिम आठ स्टेज से ही बाहर हो गई थीं जबकि वह अपने वजन वर्ग में दुनिया की नंबर पहलवान के तौर पर उतरी थीं. इन दो निराशाओं ने उन्हें कुश्ती छोड़ने की कगार पर पहुंचा दिया था लेकिन बाद में वब दमदार वापसी करने में सफल रही.

विनेश फोगाट ने रेसलिंग वर्ल्ड चैम्पियनशिप में इतिहास रच दिया है.