October 4, 2022
वर्ल्ड कप में क्यों फायदेमंद होते मोहम्मद सिराज, तीन प्वाइंट में समझिए खासियत

Mohammed Siraj, T20 World Cup: इस बार टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया गया है. मगर इसमें कई ऐसे नामों को शामिल नहीं किया गया है, जिनकी फैन्स को काफी उम्मीदें थीं. इन्हीं में एक तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज भी हैं.

सिराज को टीम में नहीं चुना गया है. वह इन दिनों इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट खेल रहे और धमाल मचा रहे हैं. उन्होंने वारविकशायर की ओर से खेलते हुए समरसेट के खिलाफ पहली पारी में 5 विकेट अपने नाम किए. पाकिस्तानी ओपनर को दोनों पारियों में अपना शिकार बनाया.

सिराज ने अब तक 13 टेस्ट में 40 और 10 वनडे मैचों में 13 विकेट लिए हैं. उनके नाम 5 टी20 मैच में 5 विकेट दर्ज हैं. आइए जानते हैं सिराज की खासियत…

ये भी देखें

गेंदबाजी में कोहली के ‘ब्रह्मास्त्र’ थे सिराज

सिराज का करियर विराट कोहली की कप्तानी में ही परवान चढ़ा है. सिराज को कोहली का ब्रह्मास्त्र माना जाता था. किंग कोहली ने सिराज का हमेशा उत्साह बढ़ाया. कोहली ने हर मुश्किल समय में सिराज को बॉलिंग थमाई और उन्होंने भरोसे को भी कायम रखा. कोहली की कप्तानी में सिराज ने 8 इंटरनेशनल मैच खेले, जिसमें 23 विकेट झटके हैं.

अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में तो सिराज और भी ज्यादा आक्रामक हो जाते थे. रहाणे की कप्तानी में सिराज ने 3 इंटरनेशनल मैच खेले, जिसमें 13 विकेट अपने नाम किए. रोहित शर्मा ने अपनी कप्तानी में सिराज को एक भी बार मौका नहीं दिया.

ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर तुरुप का इक्का साबित होते

इस बार टी20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में होना है. यहां की पिचें उछाल वाली और तेज गेंदबाजों की मददगार मानी जाती हैं. पिछले साल ऑस्ट्रेलिया को गाबा के मैदान पर टेस्ट मैच हराकर जब भारतीय टीम ने इतिहास रचा था, तब सिराज ही हीरो बनकर उबरे थे. उन्होंने दूसरी पारी में सिराज ने 5 विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया को ढेर कर दिया था.

सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोई टी20 मैच तो नहीं खेला, लेकिन उसी की जमीन पर 3 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें 13 विकेट अपने नाम किए. ऐसे में यदि सिराज भी टीम के साथ होते तो वह टीम के लिए तुरुप का इक्का साबित हो सकते थे.

आक्रामक व्यवहार टीम में पॉजिटिविटी लेकर आता

सिराज एक तेज गेंदबाज होने के साथ मैदान पर अपने व्यवहार में आक्रामकता भी बनाए रखते हैं. यह टीम में पॉजिटिविटी लाने का काम करती है. सिराज के तेवर टीम की जीत में काफी अहम होती है. यह गाबा टेस्ट में बेहद अच्छे से देखा जा सकता था. यदि वर्ल्ड कप में सिराज होते, तो उनकी आक्रामकता एक बार फिर टीम के काम आती.

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के लिए भारतीय टीम

रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल (उप-कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, आर. अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह.

स्टैंडबाय खिलाड़ी – मोहम्मद शमी, श्रेयस अय्यर, रवि बिश्नोई, दीपक चाहर.

वर्ल्ड कप 2022 के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम का ऐलान कर दिया गया है.